चंडीगढ़four घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

11 अक्टूबर को सेक्टर 56 में करंट लगने से 20 साल के मंदीप की मौत हो गई थी। युवक को पहले मोहाली फेज 6 अस्पताल में दाखिल करवाया गया और फिर पीजीआई रेफर कर दिया गया। जहां पर उसकी मौत हो गई। इस दौरान पहले मोहाली फेज 6 अस्पताल में उसका कोरोना टेस्ट किया गया और फिर पीजीआई में।

four घंटे में हुए दो टेस्ट में पहले मंदीप की रिपोर्ट नेगेटिव आई। मंदीप बेहोशी की हालत में था और चल फिर नहीं सकता था। उसकी हालत खराब हुई तो उसे पीजीआई रैफर कर दिया गया। जहां पर टेस्ट किया गया तो उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। इसी वजह से मृतक का पोस्टमाॅर्टम भी नहीं हुआ और बॉडी घरवालों को सौंप दी गई। जिस पर घरवालों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया।

लेकिन four घंटे में हुए दो टेस्ट की रिपोर्ट के अलग-अलग आने से टेस्ट के क्रेडिबिल्टी पर सवाल खड़ा हो गया है। मृतक मंदीप के पिता महिंदर बताते हैं कि उनका बेटा ठीक था और न ही उनके परिवार में किसी को कोई प्रॉब्लम थी। मौत 11 अक्टूबर देर रात हुई।

जिसके बाद 16 अक्टूबर को उनके घर पर हेल्थ डिपार्टमेंट की एक टीम आई। जिसने उन्हें क्वारेंटाइन करने के लिए बोला। इस पर महिंदर ने उनसे बताया कि बेटे की मौत को 5 दिन बीत चुके हैं। अभी तक उन्हें करीब 600 लोग मिलकर जा चुके हैं। वह देरी से आए हैं। लेकिन उन्हें कोई प्रॉब्लम अभी तक नहीं हुई है।

महिंदर के पिता ने वीरवार को पलसौरा चौकी में जाकर इंचार्ज एसआई सतनाम सिंह को शिकायत दी है। शिकायत में लिखा गया है कि जिस व्यक्ति की लापरवाही से तार खुली हुई थी उसके खिलाफ केस दर्ज किया जाए। चूंकी उनके बेटे की मौत उसकी लापरवाही से हुई है।

क्या हुआ था..
सेक्टर-56 का मंदीप 11 अक्टूबर को मलोया में अपने दोस्तों के साथ खेलने जा रहा था। इस दौरान जब वह सेक्टर 56 में जीरी मंडी चौक से मोहाली जा रही रोड पर पहुंचा तो सड़क पार करते समय उसे करंट लग गया। जिसके बाद उसे भर्ती करवाया गया और पीजीआई में उसकी मौत हो गई।

एमसी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। बेटे की पहली रिपोर्ट नेगेटिव थी। जिसके बाद पीजीआई में मौत से कुछ देर पहले उसे पॉजिटिव बताया गया था। जब शुरू से कुछ नहीं किया तो अब क्यों क्वारेंटाइन कर रहे हैं। बॉडी भी हमें दे दी थी और संस्कार भी हमने किया है। }महिंदर



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *