}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

यमुनानगर18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सिंबॉलिक इमेज।

  • eight नवंबर को घर से गई थी यमुनानगर के एक गांव की लड़की, छप्पर थाना पुलिस ने किया था केस दर्ज
  • मंडेबरी का निवासी है प्रेम संबंधों के चलते अकरम से अब अरविंद बन गया यह युवक

देश में जहां धर्म परिवर्तन को लेकर बहस छिड़ी है और कई प्रदेशों में इसके खिलाफ कानून बनाने पर विचार चल रहा है, इसी बीच यमुनानगर में इसके उलट मामला आया है। जिस विशेष समुदाय के युवक पर युवती को शादी का झांसा देकर अगवा करने का आरोप लगा था कि उसने अपना धर्म बदल दिया। उसने लड़की के धर्म के अनुसार मंदिर में शादी की। दोनों को पुलिस ने प्रोटेक्शन देते हुए कोर्ट में पेश किया। वहां दोनों ने कहा कि वे साथ रहना चाहते हैं और अपनी मर्जी से जाना चाहते हैं, लेकिन कोर्ट ने उनकी सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हें पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद पुलिस ने उन्हें सेफ हाउस में भेज दिया।

लव जिहाद के माहौल के बीच नई सोच दिखाने वाला अकरम नामक यह युवक मंडेबरी का निवासी है, जो प्रेम संबंधों के चलते अकरम से अब अरविंद बन गया है। छप्पर थाना के एक गांव से युवती आठ नवंबर की रात को चली गई थी। तब परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन पता नहीं चला। इसके बाद परिजनों ने शिकायत देकर मंडेबरी निवासी अकरम पर लड़की को अगवा करने का आरोप लगाया था। छप्पर पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज किया था, लेकिन इसी बीच पुलिस के पास हाईकोर्ट से मैसेज आ गया था कि दोनों ने शादी कर ली है और सुरक्षा के लिए कोर्ट पहुंचे हैं।

बताया जाता है कि अकरम ने अरविंद बनकर लड़की से पंचकूला के सेक्टर-19 में एक मंदिर में शादी रचाई। इसके बाद उन्होंने पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में सुरक्षा याचिका लगाई थी। इस पर कोर्ट ने एसपी यमुनानगर को आदेश दिए थे कि दोनों को सुरक्षा दी जाए। दोनों हाईकोर्ट के आदेश लेकर शुक्रवार को एसपी के पास पहुंचे थे। तब दोनों को सेफ हाउस भेज दिया गया था। इसके बाद शनिवार को उन्हें कोर्ट में पेश कर लड़की के मजिस्ट्रेट बयान कराए गए। लड़की ने लड़के के साथ जाने की बात कही। इस पर दोनों को सेफ हाउस भेज दिया गया।

इस तरह के मामलों में लव जिहाद से जोड़कर देखा जाता है

विशेष समुदाय के युवक द्वारा किसी दूसरे धर्म की युवती को शादी कर ले जाने को कुछ लोग लव जिहाद का नाम देते हैं। इस मामले को लेकर भी इसी तरह की बातें उठ रही थी, लेकिन लड़के के धर्म परिवर्तन के बाद अब नई चर्चा छिड़ गई है। इस तरह के मामले बेहद कम होते हैं कि विशेष समुदाय का युवक अपना धर्म बदल कर लड़की के धर्म को अपना ले। ऐसा दूसरे धर्म के युवक भी कम करते हैं कि वे लड़की के धर्म को अपना लें। ज्यादातर मामलों में लड़की को ही धर्म बदलना पड़ता है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *