}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


  • Hindi Information
  • Native
  • Chandigarh
  • Worshiping The Rising Solar On The Lake Of Sector 42, Chandigarh At the moment, Accomplished Chhath Puja, Full Of Religion For Three Days.

Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

छठ व्रत करने वालों ने कोरोना संक्रमण से बचाव करते हुए अपने घरों पर ही पूजा अर्चना की।

  • कोरोना संक्रमण के कारण कई लोगों ने अपने घरों की छत पर की छठ पूजा
  • प्रशासन की ओर से भी लेक पर कम संख्या में लोगों को आने के लिए कहा गया था

चंडीगढ़ पूर्वांचल महासभा की ओर से शहर में छठ पूजा का आयोजन किया गया था। शहर के सेक्टर-42 स्थित लेक पर शनिवार सुबह लोगों ने उगते हुए सूर्य की आराधना की। इसी के साथ चार दिवसीय लोक आस्था के छठ पर्व का समापन हो गया। छठ पूजा को लेकर शहर में कई स्थानों पर कृत्रिम घाट का निर्माण किया गया था और उसमें पानी भर कर छठ व्रतधारियों ने पूजा की।

शहर में कई लोगों ने अपने घरों की छत पर पूजा की।

शहर में कई लोगों ने अपने घरों की छत पर पूजा की।

शहर के बुड़ैल इलाके में लोगों ने कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर अपने घरों की छतों पर ही डूबते और उगते सूर्य की पूजा की। व्रतियों ने सुविधा के अनुसार प्लास्टिक के बड़े टब और बाल्टियों में पानी भरकर पूजा की और सुख शांति की कामना की। व्रती सुनील कुमार ने बताया कि इस बार प्रशासन की ओर से शहर की लेक पर ज्यादा लोगों को आने की मनाही थी और कोरोना संक्रमण के डर से लोगों ने अपने घरों पर ही पूजा अर्चना की।

सुबह उगते सूर्य की आराधना के लिए लोग तीन बजे से ही घाट पर आने शुरू हो गए। उसके बाद उगते सूर्य की पूजा की और छठी मइया से सुख-शांति की कामना की। उसके बाद छठ व्रत करने वालों ने व्रत को तोड़ा और प्रसाद खाया।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *