}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


पानीपत9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • 7 मई 2019 को हुआ था विवाह, साढ़े चार महीने का है बेटा

शहर की शास्त्री कॉलोनी में बुधवार को एक महिला की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। पिता ने आरोप लगाया कि दहेज के लिए उनकी बेटी की हत्या की गई है। समालखा के गांधी कॉलोनी निवासी बिजेंद्र शर्मा ने बताया कि उनकी 23 वर्षीय बेटी रचना की शादी 7 मई 2019 को शास्त्री कॉलोनी निवासी मोहित के साथ हुई थी। मोहित की घर में ही किराना की दुकान है।

आरोप है कि शादी के बाद ससुराल वाले बेटी को दहेज के लिए परेशान कर रहे थे। पति कार, सास व दो जेठानी चेन, ससुर-देवर प्लाॅट के लिए 10 लाख रुपए की डिमांड कर रहे थे। बुधवार सुबह रचना ने अपनी मां मीना रानी के पास फोन कर कहा कि ससुराल वाले उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। तब मां ने बेटी को ही समझा दिया।

कुछ देर बाद पड़ोसी ने फोन कर बताया कि एंबुलेंस में किसी को लेकर जा रहे हैं। तब सिविल अस्पताल आए तो बेटी रचना मृत थी। रचना का साढ़े four माह का बेटा युवी है। किशनपुरा चौकी इंचार्ज रणबीर सिंह ने बताया कि पति मोहित, ससुर हरीशचंद, सास विमला, जेठ मोनू और नितेश, जेठानी ममता और पूनम व देवर राहुल के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज किया है।

पिता ईंट-भट्‌ठों के मालिक, बेटे को लिया गोद

पिता बिजेंद्र ने कहा कि उसका काकोदा और महावटी में पार्टनरशिप में ईंट-भट्‌ठा है। उसकी four बेटियों में रचना तीसरे नंबर की थी। बेटा नहीं था। तब उसने करीब 10 साल पहले एक बच्चा गोद लिया था। ससुराल वाले बेटी को कहते थे कि तेरे पिता को मार देंगे। दो-तीन बार पंचायत भी हुई, लेकिन ससुराल वाले नहीं माने।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *