}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


  • Hindi Information
  • Native
  • Haryana
  • Hisar
  • Used To Speak To Every Different With The SIM On The ID Of One other, Used To Name The Youths Of Hisar Delhi Resorts To Lure The Youth.

Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हिसार26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो।

  • वेबसाइट बना सरकारी नाैकरियाें के नाम पर 27 हजार युवाओं से 1.09 कराेड रुपए ठगने का मामला
  • दिल्ली के परीक्षा केंद्र से लिया था देशभर से अाए युवाअाें का डेटा

दिल्ली की साइबर सेल द्वारा पकड़े गए फर्जी वेबसाइट बनाकर नाैकरियां दिलाने के नाम पर 27 हजार से अधिक युवाओं से 1.09 कराेड से अधिक ठगने वाले गिराेह की जांच में दिल्ली की साइबर सेल ने कई खुलासे किए हैं। दिल्ली के एकलव्य ऑनलाइन परीक्षा सेंटर में परीक्षा देने के दाैरान गिराेह के सदस्याें ने देशभर से आए युवाओं का ब्याेरा हासिल किया था। आरोपी एक-दूसरे से बातचीत के दाैरान फर्जी आईडी पर लिए गए सिम का प्रयाेग किया जाता था, ताकि काेई सदस्य पकड़ा भी जाए ताे सुबूत हाथ न लग सके।

गिराेह के सरगना विष्णु के कहने पर ही यू टयूब की मदद से हिसार के रहने वाले साॅफ्टवेयर इंजीनियर जाेगिंद्र ने वेबसाइट काे तैयार किया था। युवाओं काे फंसाने के लिए कई बार गिराेह के सदस्य हिसार और दिल्ली के हाेटल भी बुक कराते थे। बुकिंग का खर्च युवाओं से ठगे रुपयाें से एड़जस्ट किया जाता था। गिराेह में हिसार के अन्य भी युवा शामिल हाे सकते हैं। साइबर सेल ने इसकी जांच शुरू कर दी है।

दिल्ली साइबर सेल की जांच में सामने आया है कि गिराेह के सदस्य एक दूसरे के माेबाइल पर लगातार संपर्क में रहते थे। ठगी का रुपए निकाले जाने के बाद हिसार में एक दूसरे काे बांटा जाता था। कई बार ठगी के रुपए मिलने के बाद आराेपी दिल्ली के हाेटलाें में पार्टी करते थे। दिल्ली की साइबर सेल के डीसीपी अनीश रॉय के अनुसार आराेपियाेें ने बताया कि वह जल्द अन्य नाेकरियाें की वेकेंसी भी निकालने वाले थे। नाैकरी निकालने से पहले जाेगिंद्र विष्णु पूरी जानकारी लेते थे। इसके बाद ही अखबाराें के माध्यम से विज्ञापन दिया जाता था। डीसीपी का कहना है कि गिराेह के सरगना विष्णु काे भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

पांच आरोपी गिरफ्तार, गिरोह का सरगना विष्णु फरार

दल्ली की साइबर सेल ने फर्जी वेबसाइट बनाकर नाैकरियाें के नाम पर 27 हजार युवाओं से कराेडाें रुपए ठगने वाले हरियाणा के हिसार निवासी संदीप (32), हिसार निवासी रामधारी (50),हिसार निवासी जोगिन्द्र सिंह (35), जींद निवासी अमनदीप (27), भिवानी निवासी सुरेंद्र सिंह (50) काे पकड़ा था। हालांकि गिराेह का स रगना हिसार का रहने वाला विष्णु अभी भी फरार चल रहा है। जिसकी तलाश में साइबर सेल विभिन्न स्थानाें पर दबिश दे रही है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *