महोबा33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

क्रशर कारोबारी इंद्रकांत की गोली लगने से मौत हो गई थी।- फाइल फोटो

  • 13 सितंबर को क्रशर कारोबारी की मौत हुई थी
  • तत्कालीन एसपी मणिलाल पर केस दर्ज हुआ था

महोबा में कबरई के क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत के 29 दिन बाद बुधवार को पीड़ित परिवार ने प्रेसवार्ता की। परिवार ने एसआईटी समेत जांच कर रही पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े किए हैं। परिवार ने आरोप लगाया कि पुलिस अब तक निलंबित आईपीएस मणिलाल पाटीदार और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। यह भी आरोप लगाया कि सामाजिक बदनामी करने के लिए कारोबारी का जुए का वीडियो वायरल किया गया।​​​​​​​​​​​​​​

जांच से संतुष्ट नहीं परिवार, बेटे ने कहा- हमें न्याय दें
इंद्रकांत त्रिपाठी के भाई विजय कुमार त्रिपाठी ने कहा कि अब तक की जांच से हम लोग संतुष्ट नहीं हैं। यदि पुलिस अधिकारी हमें न्याय नहीं दें सकते तो हम सबको भी इंद्रकांत के पास भेज दो। पूर्व एसपी की गिरफ्तारी न करके पुलिस अपना समय बर्बाद कर रही है और विभाग के ही कुछ लोग उसे बचाने के लिए काम कर रहे हैं। एसआईटी ने अपनी जांच में यह भी कहा था कि आईपीएस मणिलाल द्वारा एक यूट्यूब पोर्टल के जरिए जो जुआ खेलते वीडियो वायरल कराया गया था, इसी कारण इंद्रकांत अवसाद में था और उस पर फर्जी मुकदमा लिखने के लिए ही नोटिस जारी किया गया था। मामले में वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। इंद्रकांत के eight साल के बच्चे ने पीएम और सीएम से कार्रवाई की मांग की।

यह है मामला
व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी बीते eight सितंबर को कबरई थाना क्षेत्र के बांदा रोड पर अपनी ऑडी कार में गोली लगने से घायल अवस्था में मिले थे। 13 सितंबर को इंद्रकांत की कानपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। इससे पहले इंद्रकांत ने एक वीडियो जारी कर एसपी समेत अन्य पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। इसके आधार पर महोबा के तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार समेत कबरई थाना प्रभारी समेत four लोगों पर हत्या और भ्रष्टाचार का केस दर्ज किया गया था। मुख्यमंत्री ने हत्याकांड की जांच के लिए एक एसआईटी टीम का गठन किया था। 10 दिन की जांच के बाद एसआईटी टीम ने घटना का खुलासा किया है। जिसमें कहा गया कि उत्पीड़न से परेशान होकर इंद्रकांत ने सुसाइड किया था।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *