किशनपुरthree घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

किशनपुर थाना में बरामद लूटी गई बाइक।

  • म.वि. चौहट्टा के पास एनएच-327ए पर लूट की शिकायत पर पुलिस की कार्रवाई

थाना क्षेत्र के मध्य विद्यालय चौहट्टा के पास एनएच-327ए पर रविवार की शाम मोटरसाइकिल लूटकांड मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने अंतरजिला बाइक लुटेरा गैंग का पर्दाफाश किया है। इसके साथ ही लुटेरा गैंग में शामिल three मास्टरमाइंड अपराधियों को आधा दर्जन चोरी की बाइक व चार मोबाइल फोन के साथ गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के अनुसार सदर थाना क्षेत्र के जेपी नगर सुपौल स्थित वार्ड नंबर 26 निवासी सत्यनारायण शर्मा के पुत्र शालिग्राम अपनी अपाचे बाइक पर सवार होकर रविवार की शाम फारबिसगंज से सुपौल जा रहा था। इस दौरान भपटियाही-सुपौल-सहरसा सड़क मार्ग एनएच-327ए पर मध्य विद्यालय चौहट्टा के पास अपाचे बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने ओवरटेक कर युवक से अपाचे मोटरसाइकिल व मोबाइल फोन लूट कर भाग गया था।

इस घटना को लेकर सुपौल शहर के वार्ड 26 निवासी पीड़ित युवक ने किशनपुर थाना में आवेदन देकर मोटरसाइकिल बरामद करने के लिए पुलिस से गुहार लगाई थी। लिहाजा मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष सुमन कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर छापेमारी शुरू कर दी।

लूटकांड में शामिल थे मोकुना गांव के दो युवक

मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने सहरसा जिले के बिहरा थाना क्षेत्र स्थित मोकुना गांव से तीन अपराधी समेत 6 बाइक समेत चार मोबाइल के साथ दबोच लिया। थानाध्यक्ष सुमन कुमार ने बताया कि छापेमारी के दौरान सबसे पहले बिहरा थाना क्षेत्र के मोकना गांव से 20 वर्षीय प्रवीण कुमार उर्फ कारी को गिरफ्तार किया गया। जिससे काफी देर तक पूछताछ की।

पूछताछ के दौरान गिरफ्तार प्रवीण की निशानदेही पर लूटी गई बाइक व मोबाइल बरामद किया गया। जिसके बाद पूछताछ के दौरान कांड में संलिप्त दो अन्य अभियुक्त क्रमश: मोकुना गांव के ही दिलकुश कुमार एवं सुपौल जिले के लौकहा वार्ड नंबर 05 निवासी रौशन कुमार को गिरफ्तार किया गया। जिसके बाद तीनों अभियुक्त से पूछताछ में दविश बनाने पर 5 अन्य लूटी गई मोटरसाइकिल सहित तीन मोबाइल फोन भी बरामद की गई।

सभी अपराधियों को भेजा जेल
लूट मामले में जब्त मोटरसाइकिल में 2 अपाचे, 1 पैशन परो, 2 हिरो स्पलेंडर प्लस और एक ग्लैमर मोटरसाइकिल बरामद किया गया है। मोबाइल लोकेशन के आधार पर सभी अपराधियों को पकड़ा गया है। लिहाजा पुलिस प्रक्रिया के बाद अंतरजिला बाइक लूट गैंग के सभी मास्टरमाइंड को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। छापेमारी दल में थानाध्यक्ष, एसआई, प्रशिक्षु एसआई, एएसआई एवं पुलिस बल शामिल थे।
सुमन कुमार, थानाध्यक्ष किशनपुर



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *