पिपराही15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पिपराही में सड़क जाम करते ग्रामीण।

  • बेकाबू ट्रैक्टर ने तीन भाई-बहनों को लिया चपेट में, दो बच्चे घायल
  • आक्रोशित ग्रामीणों दो घंटे तक सड़क जाम कर किया प्रदर्शन

थाना क्षेत्र के कमरौली वार्ड एक के समीप रविवार की सुबह एनएच 104 पर शराबी ट्रैक्टर ड्राइवर ने तीन बच्चों को कुचल दिया। जिसमें से एक बच्ची की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बच्ची की पहचान स्थानीय निवासी कमल ठाकुर की four वर्षीय पुत्री शिवानी कुमारी के रुप में की गई। वहीं, जख्मी श्यामबाबू ठाकुर के पुत्र रुपेश कुमार(eight वर्ष) व नारायण ठाकुर की पुत्री आरती कुमारी(6 वर्ष) का इलाज चल रहा है।

घटना की सूचना पर पहुंचे मृत बच्ची के चाचा मुकेश ठाकुर ने बताया कि तीनों बच्चें देकुली धाम में दर्शन कर लौट रहे थे। इसी दौरान नशे में धुत ट्रैक्टर ड्राइवर ने तीनों बच्चों को कुचल दिया। जख्मी रुपेश व आरती को इलाज के लिए शिवहर, सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टराें के अनुसार जख्मी बच्चों की स्थिति गंभीर है।

ट्रैक्टर चालक को लोगों ने पीटा इसके बाद किया पुलिस के हवाले

घटना से आक्रोशित लोगों ने ट्रैक्टर चालक को खदेड़कर पकड़ लिया। लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। इस बीच कुछ लोगों की पहल पर उसे बचाया जा सका। बाद में सूचना पर पहुंची पुलिस के हवाले चालक को लोगों ने कर दिया।

एक ही परिवार के थे सभी बच्चे

दोपहर करीब 11.30 बजे कमल ठाकुर की पत्नी देकुली धाम में पूजा कर लौट रही थी। धाम से करीब एक किमी की दूरी पर कमरौली में वार्ड नंबर एक में उनका घर है। उनके साथ उनकी चार वर्षीय पुत्री शिवानी, कमल ठाकुर के भाई की पुत्री और दूसरे भाई का बेटा भी था। ये सभी एनएच 104 सड़क से होकर पैदल जा रहे थे।

घर से चंद कदम पहले स्थित कमरौली चौक पर अचानक ये तीनों बच्चे अनियंत्रित ट्रैक्टर के चपेट में आ गये। इस दौरान शिवानी गाड़ी के चक्का के नीचे आ गई। इससे बुरी तरह कुचला जाने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद गढ़वा निवासी चालक गाड़ी छोड़कर पैदल भागने लगा। कुछ दूर पर ही आक्रोशित लोगों ने पकड़ लिया।

सड़क पर लग गई वाहनों की कतार

घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर एनएच 104 पर शव रखकर दाे घंटे तक सड़क जाम व प्रदर्शन किया। थानाध्यक्ष अवधेश कुमार ने प्रदर्शनकारियों को शांत कराया। वहीं, शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस दौरान करीब दो घंटे तक सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लगी रही और आवागमन पूरी तरह बाधित रही।

  • घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। फिलहाल ग्रामीणों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया गया है। सरकारी योजना के अनुसार परिजनों को मुआवजा दिया जाएगा।

अवधेश कुमार, थानाध्यक्ष



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *