हिसार15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो।

सिटी थाना पुलिस ने एक गांव की 21 वर्षीय महिला की शिकायत पर मिलगेट एरिया के ऑटो रिक्शा चालक अमित के खिलाफ दुष्कर्म व धमकी देने का केस दर्ज किया है। पुलिस को पीड़िता ने बताया कि 21 सितंबर को ससुरालजनाें से कहासुनी होने के बाद मिलगेट की महिला के घर गई थी। वहां सात-आठ दिन रही थी। इस दौरान मेरे साथ कोई गलत हरकत नहीं हुई थी। मेरी चार माह की बच्ची साथ थी।

पीड़िता ने बताया कि सातरोड एरिया में महिला परिचित रहती है। उसके पास जाने के लिए 28 सितंबर को बस स्टैंड से ऑटो रिक्शा में सवार हुई थी। काफी देर तक रिक्शा चालक मिलगेट वासी अमित मुझे घुमाता रहा लेकिन परिचित का घर नहीं मिला। तब मैंने उसे कहा कि कहीं ठहराने का प्रबंध कर दो। वह मुझे सिविल अस्पताल के सामने होटल में लेकर चला गया।

वहां कमरा बुक करवाकर ठहरा दिया। फिर बोला कि कुछ खाने के लिए लाकर देता हूं। वह एक घंटे बाद फल इत्यादि लेकर आया था। वह लेने के बाद उसे जाने के लिए कहा था। वह बोला कि यहां शराबी आते हैं। इसलिए सुरक्षा के लिए मैं भी कमरे में ठहर जाता हूं। आरोप है कि उसने मेरे साथ दुष्कर्म किया। किसी को कुछ भी बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी।

जीताखेड़ी के पास ट्रैक पर था 35 किलाे का पत्थर, चालक ने मालगाड़ी राेकी, हादसा टला

शरारती तत्वाें ने जीताखेड़ी के पास रेलवे ट्रैक पर करीब 35 किलाे का पत्थर रख दिया। हिसार से भिवानी के लिए जा रही मालगाड़ी के चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए गाड़ी काे पत्थर से पहले ही राेक लिया। इसके चलते हादसा टल गया। राेज की तरह हिसार से भिवानी के लिए मालगाड़ी चली। शाम करीब सवा छह बजे मालगाड़ी जीताखेड़ी के पास पहुंची ताे चालक ने देखा कि ट्रैक पर काेई बड़ा पत्थर रखा हुआ है। मालगाड़ी काे पहले ही राेक लिया। अधिकारियों को सूचना दी।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *