नागौर21 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर सोनी के मार्गदशन में चल रहे रास्ता खोलो अभियान के तहत अब तक 12 चरण पूरे

देश की उन्नति व खुशहाली का रास्ता खेत और खलिहान से होकर गुजरता है। किसान के लिए तरक्की की राह आसान होने से प्रगति की राह और सुगम हो जाती है। वर्षों से बंद पड़ी उनके खेतों की ओर जाने वाली राह अब कलेक्टर के सहयोग से खुल रही है। किसानों को खेतों तक जाने के लिए सुगम मार्ग मुहैया करवाने के मकसद से शुरू किए गए रास्ता खोलो अभियान अब सफलता की ओर अग्रसर है।

कलेक्टर डाॅ. जितेन्द्र कुमार सोनी के मार्गदर्शन में जिले में किसानों के लिए खेतों की राह सुगम बनाने के लिए 31 दिसम्बर को शुरू किए गए रास्ता खोलो अभियान के अब तक 12 चरण पूरे हो चुके हैं। अब तक हुए 12 चरणों में उपखण्ड अधिकारियों व तहसीलदारों की टीमों ने पुलिस व ग्रामीणों के सहयोग से अब तक 350 से अधिक वर्षों से बंद रास्ते खोले जा चुके हैं। नागौर जिले में कई जगहों पर पांच से लेकर बीस साल पुराने विवादों का ग्रामीणों से समझाईश कर निस्तारण किया गया है।

कहीं पर दो सो मीटर तो कहीं पर तीन किलोमीटर से भी अधिक लंबे रास्तों को खुलवाकर किसान परिवारों को लाभ पहुंचाया गया है। रास्ता खोलो अभियान में पुलिस प्रशासन भी हर जगह सहयोग कर रहा है। कलेक्टर डाॅ. सोनी के मार्गदर्शन में उपखण्ड तथा तहसील स्तरीय प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों तथा राजस्व विभाग कार्मिकों ने संयुक्त रूप से कार्रवाई की और सफलता भी हासिल की।

ग्रामीण क्षेत्रों में रास्ते खुलते ही लगाई गई मेधावी बेटियों की गाैरव पट्टिकाएं

राज्य सरकार के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को गांव-ढाणी तक साकार रूप प्रदान करने के लिए कलेक्टर डाॅ. सोनी ने रास्ता खोलो अभियान के साथ ही नवाचार करते हुए मेधावी बिटिया गौरव पट्टिकाएं लगवाने काम भी किया है। अभियान के तहत खुलवाएं गए रास्तों पर बिटिया गौरव पट्टिका लगाई गई है, वहां हर साल गांव में अच्छा कार्य करने वाली और शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली मेधावी बेटियों के नाम बदलकर लिखे जाएंगे, ताकि हर बेटी गौरवान्वित महसूस कर सके और प्रेरणा ले। इस साल की मेधावी बेटियों के नाम इन बिटिया गौरव पट्टिकाओं पर अंकित किए गए हैं।
कहां कितने खुले : नागाैर में 63, लाडनूं में 28 रास्ते खाेले
अब तक नागौर उपखण्ड क्षेत्र में 63, खींवसर 20, जायल 24, लाडनूं 28, डीडवाना 32, कुचामन 23, नावां 31, परबतसर 23, मकराना 32, डेगाना 24, रियांबड़ी 27 तथा मेड़ता उपखण्ड क्षेत्र में रास्ते संबंधी 24 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। जिले में जहां रास्ता संबंधी विवाद निस्तारण की कार्रवाई हुई, वहां ग्रामीणों ने कलेक्टर व एसपी का आभार जताया।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *