}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानीपत14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इंसार बाजार की तस्वीर।

  • पुलिस कर्मचारी और फैक्ट्री के 5 कर्मचारी भी मिले कोरोना संक्रमित
  • कुल केसाें और माैताें के मामले में पानीपत दाे महीने में 5वें स्थान से 9वें नंबर पर आया

जिले में काेराेना अब खतरनाक स्थिति में पहुंच रहा है। जिले में 48 दिनाें बाद यानी डेढ़ माह बाद काेराेना के सबसे ज्यादा 61 नए केस मिले हैैं। इससे पहले 26 सितंबर काे जिले में 63 केस मिले थे। रिकवरी करीब 5 गुना कम यानी सिर्फ 14 लाेगाें की हुई है। जिले में एक बार फिर एक्टिव केस 400 के पार हाे गए हैं। गुरुवार तक जिले मेंं 407 एक्टिव केस हाे गए हैं। जबकि इससे पहले 6 अक्टूबर काे जिले में 455 एक्टिव केस थे।

रिकवरी कम हाेने के कारण जिले का रिकवरी प्रतिशत भी लगातार गिर रहा है। बुधवार काे 93.72% से गिरकर गुरुवार काे 93.21% पर आ गई है। गुरुवार काे काेराेना संक्रमितों में एल्डिकाे की डाॅ. अन्नु अराेड़ा, सेक्टर-12 और गांधी मंडी से पति-पत्नी, सिटी थाना से 55 वर्षीय पुलिसकर्मी, ओम फैक्ट्री से 5 कर्मचारी, गांव पाथरी से four पुरुष भी शामिल हैं।

जिले में कुल केसाें का आंकड़ा 8400 से पार हाेकर 8443 पर आ गया है। इनमें से 7870 केसाें की रिकवरी हाे चुकी है। अब तक कुल 110 लाेग जान गंवा चुके हैं। वहीं अब तक 56 लाेग विभाग की पहुंच से दूर हैं। गुरुवार काे 10 एंटीजन सहित 664 सैंपल लिए गए हैं।

कुल केसाें में: कुल केसाें के मामले में पानीपत प्रदेश में 9वें नंबर पर है। अक्टूबर में पानीपत से ज्यादा केस हिसार, रेवाड़ी, राेहतक में ज्यादा मिले। सिंतबर के अंत तक पानीपत प्रदेश में पांचवें नंबर थे। इस महीने में केसाें की रफ्तार फिर बढ़ने लगी है।नवंबर में अब तक 400 से ज्यादा केस आ चुके हैं।

कुल माैताें में: कुल माैताें के मामले में भी पानीपत 9वें नंबर पर गया है। दाे महीने पहले पानीपत प्रदेश तीसरे और पिछले महीने 5वें नंबर थी। अक्टूबर में जिले में सिर्फ 14 लाेगाें की माैत हुई। नवंबर में जिले में 7 की माैत अब तक हाे चुकी है। जिले में कुल माैताें का आंकड़ा 110 तक आ गई है।

रिकवरी व एक्टिव केसाें में: पानीपत रिकवरी में अब 94 प्रतिशत से नीचे आ गई है, जबकि three नवंबर तक 95% से भी ज्यादा था। रिकवरी प्रतिशत के मामले में पानीपत प्रदेश में टाॅप-Eight जिलाें में है। एक्टिव केसाें में भी पानीपत टाॅप-10 जिलाें में आ गया।

आगे क्या: डाॅक्टराें के मुताबिक अब लगातार केस बढ़ रहे हैं। क्याेंकि शादी और त्याेहारी सीजन में बाजाराें में भीड़ बढ़ी है। न काेई नियमाें का पालन कर रहा है। 44 प्रतिशत लाेग मास्क और 45 प्रतिशत लाेग साेशल डिस्टेंसिंग का पालन ही नहीं कर रहे हैं। ऐसे में दिवाली के बाद काेराेना की दूसरी लहर की भी आशंका जताई जा रही है। गुरुवार काे 48 दिनाें में बाद सबसे ज्यादा केस मिले ये इसी लापरवाही का नतीजा है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *