नई दिल्ली6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • आरोप: वाइस प्रिंसिपल पर नियमों के विपरीत पढ़ाई के लिए बुलाने का आरोप

(शेखर घोष) एलएनजेपी अस्पताल से समृद्ध नर्सिंग अहिल्याबाई कॉलेज में नियमों को ताक पर रखकर बिना एंट्रेंस टेस्ट किए गए एडमिशन का खामियाजा टीचर और छात्राओं को भुगतना पड़ा है। यहां के टीचर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि दो छात्राओं को बुखार की शिकायत है, जिसके बाद से प्रशासन में हड़कंप मच गया है और अब कॉलेज प्रिंसिपल इस मामले की लीपापोती में लगे हुए हैं।

थर्ड ईयर की छात्रा को 26 सिंतबर को बुखार था, 28 को कोरोना टेस्ट कराया तो रिपोर्ट निगेटिव मिली, लेकिन फोर्थ ईयर रिया मंडल का 25 सिंतबर का करवाया गया टेस्ट 26 सितंबर को पॉजिटिव मिला है। इसके बाद टीचर हिमाल्यानी शर्मा को बुखार होने पर 6 अक्टूबर को कोरोना टेस्ट हुआ और उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाई गई और eight अक्टूबर को फिर होस्टल आईं और बाद में घर चली गईं। बताया जा रहा है इस लापरवाही के कारण अन्य छात्राओं में भी संक्रमण फैलने का खतरा पैदा हो गया है।

छात्राओं को भी हॉस्टल बुलाया गया
कोरोना के चलते हुए केन्द्र व दिल्ली सरकार ने सभी स्कूल और कॉलेज को बंद किया हुआ है और सभी जगह ऑनलाइन पढ़ाई के निर्देश दिए गए हैं। वहीं नर्सिंग अहिल्या बाई कॉलेज कॉलेज के कार्यकारी प्रिंसिपल छात्राओं को होस्टल बुलवा लिया। कहा जा रहा है कि हास्टल में मेस बंद होने से हुए नुकसान की भरपाई के लिए नियमों के विपरीत छात्राओं को होस्टल में बुलवा लिया।

वहीं दिल्ली सरकार के ही गुरुतेग बहादुर अस्पताल से समृद्ध नर्सिंग कॉलेज के प्रिंसिपल ने कोरोना के कारण छात्राओं को होस्टल नहीं बुलवाया है। यह प्रोफेशनल कॉलेज है, छात्राओं को प्रोफेशनल ट्रेनिंग ऑनलाइन नहीं दी जा सकती, इसलिए हमने बैच वाइज छात्राओं को पढ़ाई के लिए बुलाया।

हॉस्टल में कोविड टेस्ट के बाद ही एंट्री दी गई। एक कमरे में एक छात्रा को सोशल डिस्टेंसिंग के तहत रखा गया है और एक शौचालय को चार छात्रा ही इस्तेमाल कर सकती हैं। कोविड की शिकायत के बाद पूरी बैच को घर भेज दिया गया है। टीचर गुरुतेग बहादुर नर्सिंग कॉलेज पढ़ाई के लिए छात्राओं को क्यों नहीं बुलाया इसका उन्हें जानकारी नहीं है।
एलेन बैक, कार्यकारी प्रिंसिपल, अहिल्याबाई कॉलेज ऑफ नर्सिंग



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *