हिसार14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

एसपी से मिलने पहुंचे नगर निगम के मेयर और पार्षद।

  • मेयर और पार्षद बाेले, गली-गली में बिक रहा नशा

एसपी बलवान सिंह राणा ने शुक्रवार काे शहर के प्रथम नागरिक मेयर गाैतम सरदाना व पार्षदाें के साथ मीटिंग की। मीटिंग में उन्हाेंने मेयर व पार्षदाें से वार्ड वाइज क्राइक की श्रेणी व उस पर किस तरह से अंकुश लगाया जाए, इसकाे लेकर सुझाव मांगे। मीटिंग के दाैरान सात डीएसपी, थाना इंचार्ज व शहर चाैकी इंचार्ज शामिल थे। सभी पार्षदाें व मेयर ने सबसे बड़ी समस्या शहर में फैले नशे काे लेकर बताई।

उन्हाेंने कहा कि नशा गली-गली में बिक रहा है। कहीं अवैध खुर्दे हैं ताे कहीं सूखा नशा बिक रहा है। मेयर ने कहा कि शहर में पशु मालिक पशु छाेड़ रहे हैं। अगर निगम की टीम उन्हें पकड़ती है ताे उनके साथ भी मारपीट करते हैं। अवैध बाड़ाें काे खत्म कराने काे लेकर कुछ कार्रवाई की जाए ताकि शहर की जनता काे सड़काें पर घूम रहे पशुओं से छुटकारा मिल सके। इस पर एसपी ने आश्वासन दिया कि इस मामले पर गंभीरता से काम किया जाएगा। वार्ड 2 के पार्षद प्रतिनिधि प्रवीन केडिया व वार्ड एक से पार्षद टीनू जैन ने कहा कि सेक्टर 14 में भारी वाहनाें की आवागमन है।

सेक्टर 14 से एंट्री कर ये सेक्टर 33 में निकलते हैं। वहां से एंट्री कर ये सेक्टर 14 में से निकलते हैं। भारी वाहनाें की एंट्री पर बैन लगाने की मांग की। वार्ड 10 के प्रतिनिधि राजकुमार ने कहा कि सूर्य नगर में अवैध खुर्दे चल रहे हैं। इस पर अंकुश लगाया जाए। चाैकी की बिल्डिंग हटाए जाने के मामले पर प्रतिनिधि ने कहा कि यहां चाैकी की जरूरत है यहां से चाैकी नहीं हटाई जानी चाहिए।

एसपी बलवान सिंह राणा ने कहा कि जल्द ही हेल्प लाइन नंबर जारी किया जाएगा। पार्षदाें के साथ हर महीने मीटिंग हाेगी। इस मीटिंग में हर पार्षद से हर चाैकी और थाने का फीडबैक लिया जाएगा। एसपी ने कहा कि हर महीने हाेने वाली मीटिंग में थाना व चाैकी इंचार्ज नहीं हाेंगे। इस मीटिंग में टीनू जैन, पार्षद प्रतिनिधि प्रवीन केड़िया, अनिल मानी, डाॅ. उमेद खन्ना, मनाेहर लाल, जयप्रकाश, पार्षद प्रतिनिधि राजकुमार, प्रतिनिधि कृष्ण कुमार, प्रतिनिधि उदयवीर मिंटू, प्रीतम सैनी, जयवीर गुर्जर, पिंकी शर्मा और प्रतिनिधि सुशील शर्मा उपस्थित रहे।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed