भिलाई21 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

लॉकडाउन के प्रथम चरण में मार्च महीने में जब बीएसपी में उत्पादन को कम किया गया था उस समय दो बैटरियों को हॉट कंजर्वेशन में रखा गया था। इनमें से बैटरी नंबर 5 का नवीनीकरण किया गया। नवीनीकरण का कार्य पूरा होने पर 6 महीने बाद 6 अक्टूबर को उसे दोबारा उत्पादन में लिया गया। लॉकडाउन के प्रथम चरण में जब उत्पादन घटाने का निर्णय लिया गया उस समय कोक ओवन बैटरियों को स्वस्थ प्रचालन में रखने और संयंत्र की कोक ओवन गैस की जरूरतों को पूर्ति करने के मद्देनज़र कुछ बैटरियों को चलाने का फैसला लिया गया था। संयंत्र के उत्पादन एवं निष्पादन के लिए रणनीति तैयार की गई थी। 28 व 31 मार्च को कोक ओवन बैटरी-Three व 5 को हॉट कंजरवेशन में ले लिया गया।

नवीनीकरण के काम को अवसर के रूप में लिया
बैटरी नंबर 5 के नवीनीकरण को कोक ओवन व कोल केमिकल विभाग ने एक अवसर के रूप में लिया। योजना के तहत बैटरी-5 के ओवन टॉप की रिलाइनिंग, सम्पूर्ण ओवन टॉप के उपकरणों का नवीनीकरण/प्रतिस्थापन, स्ट्रक्चरल कार्यों और विशेष रूप से ओवन डोर्स के नवीनीकरण कार्यों को शामिल किया गया।

1500 टन मटेरियल की व्यवस्था की गई
बहुत ही कम समय में इन विभिन्न प्रकार के कार्यों को संचालित करने के लिए मुख्य महाप्रबंधक जीए राव के नेतृत्व में मटेरियल्स के लगभग 1500 टन की व्यवस्था की गई और बैटरी-5 के कमिशनिंग कार्य को सफलतापूर्वक पूरा किया गया। 6 सितंबर को डायरेक्टर इंचार्ज अनिर्बान दासगुप्ता ने पुशिंग कर दोबारा उत्पादन में लाया।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed