}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हिसारthree घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • यूएलबी ने मांगा डाटा, ताकि लाेगों काे प्लाॅट खरीदने से पहले पता चल सके

अवैध काॅलाेनियाें में रजिस्ट्रियाें के खेल पर अब पूरी तरह से राेक लगाने की तैयारी चल रही है। यूएलबी ने इसकाे लेकर नगर निगम से इन अवैध काॅलाेनियाें का सर्वे कर डाटा मांगा है। शहर में करीब 20 से ज्यादा अवैध काॅलाेनियां हैं। जिसका नगर निगम के अधिकारी अब सर्वे कर रिपाेर्ट देंगे। जैसे ही सर्वे रिपाेर्ट मिल जाएगी इसे यूएलबी की वेबसाइट पर अपलाेड किया जाएगा।

इसके बाद पूरी तरह से अवैध काॅलाेनियाें में प्लाॅटाें की रजिस्ट्री रुक जाएंगी। खरीदाराें काे भी इस मामले में सतर्क रहना हाेगा। क्याेंकि अगर काेई व्यक्ति अवैध काॅलाेनियाें में अगर प्लाॅट या मकान खरीदता है ताे वह उसकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी पर रहेगा। क्याेंकि इन काॅलाेनियाें पर प्रशासन कभी भी पीला पंजा चल सकता है।

डीटीपी ऑफिस से मांगा जाएगा रिकाॅर्ड
नगर निगम के अधिकारियाें ने बताया कि डीटीपी कार्यालय के अधिकारियाें से शहर में बन रही अवैध काॅलाेनियाें का रिकाॅर्ड लेकर अपडेट किया जाएगा। इस रिकाॅर्ड में खसरा नंबर व किला नंबर भी अपडेट किया जाएगा, ताकि भविष्य में किसी तरह की काेई परेशानी न हाे।

सर्वे के लिए स्टाफ की ड्यूटी लगाई
सर्वे के लिए इंजीनियरिंग विंग के अधिकारियाें ने दाे से तीन वार्डाें में अलग-अलग स्टाफ की ड्यूटी लगाई है। जल्द ही सर्वे कर रिपाेर्ट यूएलबी की वेबसाइट पर अपलाेड की जाएगी। ऐसा इसलिए किया जा रहा है, ताकि अवैध काॅलाेनियाें में रजिस्ट्रियाें काे राेका जा सके। -सुमित ढांडा, बिल्डिंग इंस्पेक्टर, नगर निगम, हिसार।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *