}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपालfour घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इन जिलों में स्नातक में 10 हजार से अधिक एडमिशन हुए हैं।

  • 39,322 एडमिशन के साथ इंदौर पहले नंबर पर
  • यूजी व पीजी में 5 लाख 49 हजार 461 एडमिशन

एजुकेशन रिपोर्टर | भोपाल उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित ऑनलाइन व कॉलेज लेवल काउंसलिंग (सीएलसी) के जरिए एडमिशन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में संचालित स्नातक (यूजी) और स्नातकोत्तर (पीजी) स्तरीय कोर्स में कुल 5 लाख 49 हजार 461 छात्र-छात्राओं एडमिशन लिया है। इस बार वर्ष 2019 के मुकाबले 13 हजार 202 एडमिशन अधिक हैं। पिछले सत्र दोनों स्तर के काेर्स में 5 लाख 36 हजार 259 एडमिशन हुए थे। हालांकि स्नातक में पिछले वर्ष की तुलना में छात्र संख्या में 5914 कमी आई है। जबकि एडमिशन प्रक्रिया 5 अगस्त से शुरु हुई और 10 नवंबर तक चली। उधर,स्नातक स्तर के कोर्स के मामले में जिला स्तर पर एडमिशन की बात करें तो सबसे ज्यादा एडमिशन इंदौर में हुए हैं। यहां एडमिशन की संख्या 39322 है। जबकि भोपाल दूसरे नंबर पर है। भोपाल में 21868 छात्र-छात्राओं ने एडमिशन लिया है। इंदौर में यूजी कोर्स संचालित करने वाले 105 कॉलेज हैं। यहां पर सीटों की संख्या भी अन्य जिलों की अपेक्षा अधिक है। भोपाल में 76 कॉलेज हैं।

यूजी की 50% से ज्यादा सीटें अभी भी खाली भोपाल में कुल सीट की तुलना 50 फीसदी एडमिशन भी नही हो सके। भोपाल में स्नातक कोर्स में की 54,474 सीट हैं। जबकि 21,868 एडमिशन हुए हैं।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *