• Hindi Information
  • Native
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • Mother and father Despatched To Jail, Pintu’s Situation Secure After Surgical procedure, Meera Devi’s Situation Nonetheless Crucial, Raids Proceed In Search Of Upendra

धनबाद21 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • पुलिस काे खबर मिली है कि वह बिहार में बाढ़ स्थित अपनी ससुराल में छिपा है

मटकुरिया रेलवे काॅलाेनी में हुई गाेलीबारी के मामले में पुलिस ने रिकवरी एजेंट उपेंद्र के पिता मार्कण्डेय सिंह और मां शांति देवी काे शनिवार काे काेर्ट में पेश किया। वहां से दाेनाें काे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। वहीं, उपेंद्र की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। पुलिस काे खबर मिली है कि वह बिहार में बाढ़ स्थित अपनी ससुराल में छिपा है।

इधर, गाेलीबारी में बुरी तरह जख्मी हाे गए पिंटू सिंह और मीरा देवी का शुक्रवार देर रात दुर्गापुर के मिशन अस्पताल में ऑपरेशन किया गया। पिंटू की आंत में गाेली फंस गई थी। ऑपरेशन के बाद उसकी स्थिति स्थिर है, जबकि मीरा देवी की हालत गंभीर बनी हुई है। उपेंद्र ने शुक्रवार की सुबह अपनी चाची मीरा देवी और चचेरे भाई पिंटू काे गाेली मार दी थी।

आराेप : पहले चाचा पर फायरिंग, फिर पिंटू काे मारी गाेली
पिंटू सिंह के सिंटू सिंह ने शनिवार काे अपने घर में मीडिया काे बताया कि गुरुवार काे उनके चाचाओं मार्कण्डेय सिंह और जगमाेहन सिंह में झड़प हुई थी। शुक्रवार तड़के करीब 5:30 बजे उपेंद्र एसयूवी से माैके पर पहुंचे। जगमाेहन बाइक से जैसे ही गेट के पास पहुंचे, उपेंद्र पिस्टल निकालकर गाेली चलाने लगा। हालांकि गाेली जगमाेहन काे नहीं लगी। फायरिंग की आवाज सुनकर पिंटू, सिंटू और मीरा देवी घर से निकले। इसी बीच उपेंद्र ने पिंटू काे गाेली मार दी, जाे उसके पेट में लगी। फिर सिंटू पर गाेली चलाई, जाे उनके सिर काे छूती हुई मीरा देवी के सिर में जा लगी। सिंटू ने मीडिया से कहा कि वह पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद है।

सिंटू ने कहा- उपेंद्र काे पुलिस का संरक्षण
पिंटू के परिजनाें ने सवाल उठाया कि उपेंद्र पर एक बार सीसीए लग चुका है। उसके खिलाफ कई केस दर्ज हैं। फिर भी पुलिस ने उसके खिलाफ सीसीए का प्रस्ताव नहीं भेजा। सिंटू का आराेप है कि उसे स्थानीय पुलिस का संरक्षण हासिल है। पिंटू के परिजनाें ने कहा कि जहां गाेलीबारी हुई, वहां सीसीटीवी कैमरा लगा है, ताे पुलिस ने फुटेज की जांच नहीं की।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed