}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


  • Hindi Information
  • Native
  • Chandigarh
  • On The Day Of Dhanteras In Chhoti Diwali, The Market Has Turn into Enchanted, Individuals Are Making Dryfruit The First Alternative For Giving Presents.

Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सेक्टर-22 की मार्केट में ड्रायफ्रूट खरीदते लोगों ने कहा यह पूरी तरह से पैक, इस कारण यह ज्यादा सुरक्षित है। फोटो लखवंत सिंह

  • शहर की रेहड़ी मार्केट में लोगों की भीड़ आज पहले से ज्यादा, कोरोना संक्रमण की कोई परवाह नहीं
  • दुकानदारों का कहना पिछले साल की अपेक्षा इस साल काम आधा रह गया

देश का प्रकाश पर्व दीवाली लोगों में कोरोना संक्रमण के बीच मनाई जा रही है। आज शुक्रवार को छोटी दीवाली के रूप में मनाया जा रहा है। इस मौके धनतेरस का शुभ समय आज है, जिसे लेकर लोगों की ओर से खरीददारी की जा रही है। शहर की प्रमुख मार्केटों में एक सेक्टर-22 की मार्केट में लोगों की भीड़ आज काफी ज्यादा हो गई है। लोग इस बार लोगों को गिफ्ट देने के लिए ड्रायफ्रूट को पहली पसंद बनाया गया है। ड्रायफ्रूट खरीदने आए लोगों ने कहा कि यह पूरी तरह से पैक होने के कारण सबसे सेफ और फायदेमंद है।

लोग ड्रायफ्रूट को खरीदना ज्यादा सेफ मान रहे

लोग ड्रायफ्रूट को खरीदना ज्यादा सेफ मान रहे

दुकानदारों का कहना है कि इस बार पिछले साल के मुकाबले 50 फीसदी काम कम हो गया है। सेक्टर-20 में सेतिया बर्तन स्टोर के हिमांशु बताते हैं कि पिछले सालों में जैसे धनतेरस पर लोगों की भीड़ बर्तन खरीदने के लिए लगती थी, इस बार वैसा नहीं। कोविड-19 का असर उस पर्व पर भी पड़ा है। करीब 50 परसेंट कस्टमर कम हुआ है।

रेहड़ी मार्केट में लोग काफी संख्या में पहुंचे हुए

रेहड़ी मार्केट में लोग काफी संख्या में पहुंचे हुए

वहीं पिछले eight साल से यहां मीठे खिलौने व पताशे बेच रहे विजय कहते हैं कि कस्टमर बहुत कम है। काम अब पहले से आधा रह गया है। हमारा तो लॉस रिकवर भी नहीं हुआ है।

शहर की मार्केटों में चीनी की बनी मिठाई भी बिक रही

शहर की मार्केटों में चीनी की बनी मिठाई भी बिक रही

सेक्टर- 35 स्थित सुंदर ज्वैलर्स के मोहिंद्र खुराना बताते हैं कि भले ही बाजार में गैदरिंग कम है लेकिन सोने में लोग इन्वेस्ट कर रहे हैं। इस बार डेस्टिनेशन वेडिंग नहीं हुईं, लोग इंटरनेशनल ट्रिप्स पर नहीं गए। सारा बचा पैसा लोग सोने में इन्वेस्ट कर रहे हैं। 22 कैरट का रेट लॉकडाउन से पहले जहां 40 हज़ार था , वहीं अब ये 50 हज़ार तक पहुंच गया है। लोग डायमंड, सोना और चांदी खरीद रहे हैं।

सेक्टर-22 में ड्रायफ्रूट खरीदते हुए संजय यादव ने कहा कि इस बार सबसे भरोसेमंद ड्रायफ्रूट है जो डिब्बाबंद है। उन्होंने कहा कि इस साल चाहे इसके दाम में कुछ इजाफा हुआ है लेकिन सबसे सेफ इस बार ड्रायफ्रूट है।

शहर में ट्रेफिक बढ़ी

शहर में आज सड़कों पर वाहनों की भीड़ ज्यादा है। लाेग सुबह से खरीददारी के लिए मार्केट में आ रहे है। शहर की सेक्टर-22 की रेहड़ी मार्केट में लोगों की भीड़ बहुत ज्यादा है। लोग कोरोना संक्रमण प्रति पूरी तरह से लापरवाह दिख रहे है। वैसे शहर में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ौतरी हो रही है। सड़कों पर वाहनों की संख्या बढ़ गई है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed