सुकमा27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने दो सिपाहियों पर हमला कर दिया और उनके साथ मारपीट करने लगे। सिपाहियों ने भी अपने बचाव में नक्सलियों को पीटा तो ग्रामीणों ने भी साहस दिखाया। इस पर नक्सली भाग निकले।

  • एर्राबोर क्षेत्र के कोंगड़म गांव की घटना, एक कांस्टेबल की पीठ में लगा तीर
  • ग्रामीणों ने दोनों सिपाहियों को कोंटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया भर्ती

छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने दो सिपाहियों पर हमला कर दिया और उनके साथ मारपीट करने लगे। सिपाहियों ने भी अपने बचाव में नक्सलियों को पीटा तो ग्रामीणों ने भी साहस दिखाया। इस पर नक्सली भाग निकले, लेकिन भागते हुए तीरों से हमला कर दिया। इसमें सिपाही घायल हो गए। दोनों सिपाहियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक, एर्राबोर क्षेत्र के ग्राम कोंगड़म निवासी सोयम रमेश दंतेवाड़ा और कन्ना किस्टाराम थाने में पदस्थ हैं। दोनों पिता के अंतिम संस्कार में अपने गांव आए थे। दोनों अपने घर में बैठे हुए थे, इसी दौरान करीब 10 नक्सली पहुंच गए। नक्सलियों ने दोनों सिपाहियों की पिटाई करना शुरू कर दिया। इस पर जवानों ने भी हाथापाई की।

नक्सलियों के पास पिस्टल देख ग्रामीण डरे, फिर मिलकर भगाया
नक्सलियों के पास देसी पिस्टल होने से पहले तो ग्रामीण डरे, फिर सिपाहियों का हौंसला देख उन्होंने भी हमला कर दिया। ग्रामीणों को एकजुट होता देख नक्सली भाग निकले। भागते हुए नक्सलियों के तीर मारने से सिपाही कन्ना की पीठ में जा लगा। इसके ग्रामीणों ने दोनों सिपाहियों को कोंटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *