}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


  • Hindi Information
  • Nationwide
  • Narendra Modi JNU Replace | PM Narendra Modi At Unveiling Of Swami Vivekananda At JNU As we speak Newest Information Replace

Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीकुछ ही क्षण पहले

  • कॉपी लिंक

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए JNU कैंपस में बनाई गई स्वामी विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण किया। मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में शामिल हुए। मोदी ने कहा- स्वामी विवेकानंद की मूर्ति सपनों को साकार करने की प्रेरणा देती है। इससे सशक्त भारत का सपना साकार करने की प्रेरणा भी मिलती है।

कार्यक्रम में मोदी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जानते थे कि भारत दुनिया को क्या दे सकता है। एक सदी पहले स्वामी विवेकानंद ने मिशीगन यूनिवर्सिटी में इसकी घोषणा भी की थी। स्वामी जी ने अपनी पहचान भूल रहे भारत में नई चेतना का संचार किया था।

मूर्ति को 2 साल तक ढंककर रखा गया
JNU में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति लगाने का काम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्रों की पहल पर किया गया है। मूर्ति बनाने का काम 2017 में शुरू हुआ था। एक साल के बाद 2018 में इसे बनाकर तैयार कर दिया गया था। पिछले दो साल से मूर्ति को ढंककर रखा गया था। इस दौरान कई बार मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने की कोशिश भी की गई।

विवेकानंद ने सभ्यता-संस्कृति पर गर्व का भाव जगाया
JNU के वाइस चांसलर ने अपने बयान में कहा- स्वामी विवेकानंद भारत के सबसे बड़े आध्यात्मिक लीडर्स में शुमार हैं। उन्होंने देश की आजादी, विकास, सहयोग और शांति के लिए काम किया। उन्होंने देश के युवाओं में भारतीय सभ्यता और संस्कृति पर गर्व करने का भाव जगाया।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *