}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


वाराणसी38 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शासन द्वारा पहले से ही दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी है।

  • गंगा को स्वच्छ रखने के लिए नमामि गंगे की टीम रोज एक घंटे चला रही अभियान
  • नाविकों, दुकानदारों, गंगा किनारे रहने वाले लोगों से अपील, कचरा फेकने वालों पर नजर रखे

दीपावली के बाद अक्सर लोग घर मे पूजन किये गए प्रतिमाओं और पूजन सामग्री को गंगा में विसर्जित कर देते हैं। गुरुवार को नमामि गंगे की टीम ने काशी के घाटों पर अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया। लोगों से अपील की गई है कि गंगा हम सभी की मां है। जैसे मां का ध्यान संतान रखते हैं, वैसे ही सभी को अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए।

धार्मिक कैलेंडर, पूजन सामग्री, प्रतिमा और फूल माला टीम ने गंगा से निकाला

गंगा स्वच्छ रहेगी तो सभी को फायदा होगा। इस अपील के साथ नमामि गंगे की ओर से स्वच्छता अभियान चलाया गया। नमामि गंगे के संयोजक राजेश शुक्ला के नेतृत्व में चलाए गए अभियान के तहत गंगा तट पर मौजूद श्रद्धालुओं से गंगा में गंदगी नहीं फैलाने की अपील की गई। दुकानदारों से कपड़े का झोला उपयोग करने को कहा गया। सिंगल यूज प्लास्टिक से दूर रहने की सलाह दी गई।

राजेश शुक्ला ने कहा कि सरकार के साथ प्रत्येक काशी-वासी, गंगा तट पर आने वाले श्रद्धालुओं, दुकानदार और नाविकों का कर्तव्य है कि मां गंगा को निर्मल व स्वच्छ रखें और पॉलिथीन मुक्त भारत अभियान में शामिल हों।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *