}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बच्चे को यातनाएं देता वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने की थी खातिरदारी।

पुलिस-प्रशासन ने निगम की टीम के साथ मिलकर शनिवार को विजय नगर थाना क्षेत्र के हिस्ट्रीशीटर शेख मुख्तियार के 15 अवैध निर्माणों को ध्वस्त कर दिया। एक साल पहले 17 साल के लड़के का मुंंह कमोड में डालकर निर्वस्त्र कर पीटने के बाद मुख्तियार चर्चा में आया था। तब मुख्तियार के 22 अवैध निर्माण को जिला प्रशासन और नगर निगम की टीम ने जमींदोज कर दिया था। गुंडे ने 10 साल में 50 करोड़ की 70 हजार वर्गफीट जमीन पर कब्जा कर लिया था।

झूठी गवाही देने से मना किया था तो 17 साल के बच्चे को ऐसे दी थी यातना।

झूठी गवाही देने से मना किया था तो 17 साल के बच्चे को ऐसे दी थी यातना।

16 साल की उम्र में बन गया भू-माफिया
भू-माफिया शेख मुख्तियार खान की कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है। उज्जैन जिले के बड़नगर का रहने वाला मुख्तियार एक रेप केस मामले में फरार होकर 2003 में इंदौर आ गया। पेट पालने के लिए उसने यहां पर रंगाई-पुताई का काम शुरू कर दिया। इस दौरान उसने जमीनों के सौदे और अवैध रूप से जमीनों पर कब्जे करने की ओर कदम बढ़ा दिया। 16 साल का होते-होते वह कुख्यात भू-माफिया बन चुका था। उसने अपना रुतबा ऐसा बनाया कि विजय नगर पुलिस थाना उसके इशारों पर घूमने लगा। उसके खिलाफ यहां शिकायतें सुनी ही नहीं जाती थीं, उलटा शिकायतकर्ता को ही पुलिस द्वारा धमकाया जाता था। कांग्रेस और भाजपा नेताओं से संबंधों का रौब जमाते हुए वह कई बार थाने पर बैठा दिख जाया करता था।

विजय नगर थाने में चलता था सिक्का।

विजय नगर थाने में चलता था सिक्का।

टीआई को टिफिन तक पहुंचाता था
25 से ज्यादा केसों में अपराधी मुख्तियार ने पुलिस से सांठ-गांठ कर अवैध साम्राज्य खड़ा कर लिया था। इसी के दम पर वह दुकानों मकानों पर कब्जा करने लगा। वह थाने पर बैठने के साथ ही पुलिस के साथ घूमा करता था। पता चला है कि एक टीआई को तो वह टिफिन तक पहुंचाया करता था। इतना ही नहीं एक बार जवानों के कहने पर उसने विजय नगर थाने की पुताई तक करवा दी थी। वह कई जवानों को पार्टियां और गिफ्ट भी दिया करता था।

पुलिस ने एलआईजी क्षेत्र में निर्माणों को किया जमींदोज।

पुलिस ने एलआईजी क्षेत्र में निर्माणों को किया जमींदोज।

ऐसे बना पुताई वाले से हिस्ट्रीशीटर
16 साल पहले पुताई करता था, अब 50 कराेड़ से ज्यादा की जमीन पर कब्जा – मुख्तियार बड़नगर से बलात्कार के एक मामले में 2003 में भागकर इंदौर आ गया था। यहां कुछ साल पुताई का काम करने के दौरान उसकी मुलाकात कमलेश चौहान नामक व्यक्ति से हुई। 2011-12 में कमलेश के जरिए मुख्तियार पंढरीनाथ क्षेत्र के बदमाश नज्जू चौधरी के बेटे पंकू के संपर्क में आया। खजराना के बदमाश बब्बू के भाई फारुख शेख से दोस्ती हुई। फिर इन्होंने राधिका कुंज काॅलोनी काटने वाले कॉलोनाइजर के एक मुनीम को झांसे में लेकर उससे पुराने प्लाटधारकों की रजिस्ट्रियां निकलवाईं और बैक डेट में फर्जी रजिस्ट्री तैयार कर लोगों के प्लॉटों पर कब्जा करना शुरू किया। 2003 में ही मुख्तियार ने खुद को कांग्रेस सरकार के गृह मंत्री का करीबी बताकर पुलिस अधिकारियों पर रौब जमाया। मुख्तियार ने कई लोगों को थाने में झूठी शिकायतें कर बंद करवाया। बाद में उनसे रुपए लेकर छुड़वाया भी।

पुलिस ने पकड़कर निकाला था जुलूस।

पुलिस ने पकड़कर निकाला था जुलूस।

जहां बच्चे को निर्वस्त्र कर पीटा था, वहीं से पुलिस ने निकाला था जुलूस
2019 में एक नाबालिग को निर्वस्त्र कर डंडे से पीट कर मुंह कमोड में डालने के बाद पकड़ में आए मुख्तियार की पुलिस ने जमकर खातिरदारी की थी। गुंडे ने पुलिस को बताया था कि कुछ दिन पहले उसके बेटे पर एक व्यक्ति ने चाकू से हमला किया था। इस मामले में वह कुछ लोगों के खिलाफ झूठी गवाही देने के लिए एक बच्चे पर दबाव बना रहा था। वह वीडियो तभी का है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *