}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मनीमाजराएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड की ओर से की गई कार्रवाई
  • स्थानीय पार्षद और भाजपा नेताओं ने रुकवाया अभियान

हाउसिंग बोर्ड द्वारा सोमवार को इंदिरा कॉलोनी में कई घरों के अवैध निर्माण को गिराया गया। इसी को लेकर हाउसिंग बोर्ड के अधिकारी एवं है उनके कर्मचारी इस अभियान में मौजूद थे। वहीं, पुलिस की ओर से भी पुख्ता इंतजाम किए गए थे। इस कार्रवाई में तहसीलदार सुरेश भी उनके साथ थे। सुबह शुरू हुई कार्रवाई में हाउसिंग बोर्ड ने एक दर्जन से अधिक मकानों के अवैध निर्माण गिराने का अभियान चलाया।

हाउसिंग बोर्ड के कर्मचारियों ने कुछ मकानों के अवैध निर्माण तो गिरा दिए। बाद में स्थानीय निवासियों ने इसका विरोध करना शुरू किया और मौके पर स्थानीय पार्षद विनोद अग्रवाल और भाजपा के कई नेता मौके पर पहुंचे।पार्षद ने रुकवाया अभियान इस अभियान की जानकारी मिलते ही मौके पर स्थानीय पार्षद विनोद अग्रवाल भी पहुंचे।

विनोद अग्रवाल ने हाउसिंग बोर्ड कर्मचारियों को इस अभियान को रोकने का आग्रह किया। वहीं, भाजपा के कई नेता भी मौके पर पहुंचे और इस अभियान को रोकने का उन्होंने आग्रह किया। पार्षद विनोद अग्रवाल ने बताया कि लोगों ने अपनी जरूरत के हिसाब से थोड़ा निर्माण कर रखा है। जिसे हाउसिंग बोर्ड अवैध बताकर उनके घरों में बने निर्माण को गिरा रहा था।

हाउसिंग बोर्ड के अधिकारियों को आग्रह किया तो उस अभियान को उन्होंने फिलहाल रोक दिया। उनका कहना है कि इस मामले को लेकर चंडीगढ़ प्रशासन के उच्च अधिकारियों से भी संपर्क किया जाएगा ताकि लोगों को कोई दिक्कत न आए। सीएचबी से मिल रहे नोटिस को लेकर स्थानीय निवासियों का कहना है कि हाउसिंग बोर्ड के कर्मचारी उन्हें नोटिस भेज रहे हैं।

इस को लेकर लोगों में खासा रोष है। उन पर बेवजह कार्रवाई की जाती है। उनके द्वारा बनाए गए मकानों को गिराया जा रहा। लोगों का कहना है कि उन्होंने अपनी मेहनत से मकान बनाए हैं और हाउसिंग बोर्ड बेवजह उन पर कार्रवाई कर रहे।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *