}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पटाखे फोड़ने पर रोक लगाने के लिए हरियाणा पुलिस ने कड़े आदेश जारी किए हैं।

  • सभी थाना प्रभारियों एवं बीट इंचार्जों को अपने अपने क्षेत्रों में गश्त करने के आदेश
  • पटाखे जलाने वालों को भी रोकने के आदेश, पुलिश कानूनी कार्रवाई भी कर शकती है

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश के बाद राज्य सरकार ने सभी डीसी, पुलिस विभाग और हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को कड़े निर्देश जारी किए हैं। जिन्हें सभी जिलों में अधिकारियों तक पहुंचा दिया गया है। आदेशों में कहा गया है कि कहीं भी पटाखों की बिक्री न होने दी जाए। पटाखे फोड़ने वालों पर भी सख्ती से रोक लगानी होगी। सभी थाना प्रभारियों एवं बीट इंचार्जों को अपने-अपने क्षेत्रों में गश्त करके इस तरह की गतिविधियों पर प्रभावी ढंग से रोक लगाने को कहा गया है। सरकार का आदेश न मानने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

दरअसल फरीदाबाद समेत दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण स्तर के लगातार बिगड़ते हालात देखते हुए एनजीटी ने सख्ती दिखाई है। एनजीटी ने अपने आदेश में साफ कहा है कि वह प्रदूषण से किसी की मौत होने का इंतजार नहीं कर शकती। खुशियों का जश्न मनाया जाता है मौत का नहीं। एनजीटी का आदेश आते ही राज्य सरकार भी हरकत में आ गई और चीफ सेक्रेटरी ने डीसी, पुलिस कमिश्नर और हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को आदेश जारी करके एनजीटी के आदेश का सख्ती से पालन कराने का आदेश जारी कर दिया। क्योंकि दिल्ली एनसीआर के प्रमुख शहरों फरीदाबाद और गुरुग्राम में प्रदूषण खतरनाक स्तर तक पहुंच चुका है। इसलिए सरकार ने इन दो जिलों में एक दिसंबर रात तक पटाखे न फोड़ने का आदेश दिया है।

पटाखे बेचने व जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश

सरकार के आदेश के बाद फरीदाबाद पुलिस भी एक्शन मोड में आ गई है। पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने सभी थाना प्रभारियों, चौकी इंचार्जों और बीट इंचार्जें से अपने-अपने क्षेत्रों में लगातार गश्त करने और पटाखे बेचने और जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया है। कमिश्नर ने साफ कहा है कि बीट इंचार्ज अपने क्षेत्र में किसी भी सूरत में बिक्री न होने दें। ऐसे शरारती तत्वों पर नजर रखें, जो चोरी छिपे पटाखे बेचते हैं। जरूरत पड़ने पर ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाए। पुलिस ने अपने सख्त शब्दों में चेतावनी दी है कि जो करेगा हवा खराब, पुलिस करेगी उसकी हवा टाइट।

संगठनों से दीए की दीवाली मनाने की गुजारिश

पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह, हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी स्मिता कनौडिया और दिनेश कुमार ने सामाजिक व धार्मिक संगठनों, आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों, निगम व जिला पार्षदों से शहर के प्रदूषण को रोकने मे मदद करने की गुजारिश की है। उक्त अधिकारियों का कहना है दिवाली दीयों का त्योहार है। इसलिए शहर में पैदा होने वाले संकट को देखते हुए हम सभी को अपनी परंपरा के अनुसार त्योहार मनाना चाहिए।

324 दर्ज किया गया प्रदूषण का स्तर

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आंकड़ों पर नजर डालें तो शुक्रवार को फरीदाबाद शहर में प्रदूषण का स्तर 324 दर्ज किया गया। यदि पटाखे जलाए जाते हैं तो शहर गैस चैंबर बन सकता है। जो शहरवासियों के जीवन के साथ खिलवाड़ होगा। आंकड़ों के मुताबिक, न्यूटाउन इंडस्ट्रियल एरिया के आसपास का स्तर 347, सेक्टर 11 के आसपास 313 और सेक्टर 30 के आसपास 311 दर्ज किया गया।

एनजीटी के आदेश के बाद पुलिस, नगर निगम अधिकारियों, एसडीएम, फायर अफसर, तहसीलदार, नायब तहसीलों को इस आदेश का सख्ती से पालन कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। यदि कोई सरकार अथवा एनजीटी के आदेश का पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।
– यशपाल यादव, डीसी फरीदाबाद



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *