भोपाल12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भोपाल की शाहपुरा पुलिस ने इस मामले में लड़की और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है।

  • विशाखापट्टनम से ललितपुर के रास्ते भोपाल में लाकर तस्करी कर रहे थे
  • लड़की के साथ उसका साथी भी पकड़ा गया, पहले भी पकड़े जा चुके हैं

मध्य प्रदेश में अब ड्रग्स और गांजा तस्करी के लिए लड़कियों का उपयोग किए जाने लगा है। ऐसे में पुलिस की मुश्किलें और चिंता बढ़ गई हैं। ऐसे ही एक गिरोह की एक लड़की समेत दो तस्कर पकड़े गए हैं। 23 साल की यह लड़की विशाखापट्टनम के रास्ते ललितपुर तक गांजा लाकर भोपाल में तस्करी करती थी। उसका कहना है कि मॉल में सेल्समैन की नौकरी छूटने के कारण वह इस धंधे में आ गई।

शाहपुरा पुलिस ने बावड़िया ओवरब्रिज के पास एक लड़की और उसके साथी को घेराबंदी कर पकड़ा। आरोपियों की पहचान झांसी निवासी 23 साल की नीलम और 24 साल के कुलदीप पाठक उर्फ अजय पाठक के रूप में हुई। नीलम स्कूटी और कुलदीप बाइक पर था। उनके पास से तलाशी में गांजा जब्त हुआ। नीलम ने बताया कि वह भोपाल में लॉकडाउन के पहले सेल्समैन की नौकरी करती थी। लॉकडाउन में नौकरी छूट गई। वह पहले से ही इस तरह के काम करती थी। अभी पैसों की जरूरत होने के कारण वह इसे बेचने जा रही थी।

ट्रेन से होती है तस्करी
नीलम ने बताया कि वह विशाखापट्टनम से गांजा और मादक पदार्थ लाती है। वहां से ट्रेन की किसी बोगी में वह बंडल यूं ही छोड़ देती थी। उसके बाद वह दूसरी बोगी में टिकट लेकर बैठ जाती थी। अगर कहीं माल पकड़ा जाता तो वह बच जाती थी। माल बेचने वह उसे ललितपुर के पास चलती ट्रेन से आउटर में फेंककर बाद में उसे उठा ले जाती थी। लॉकडाउन में ट्रेन बंद होने के कारण यह धंधा भी मंदा हो गया था। अभी उसके पास पहले से माल पड़ा हुआ था। डिमांड आने के कारण वह यह करने लगी। राजस्थान में भी सप्लाई करती रही है। पति से तलाक होने के बाद कुलदीप के ही संपर्क में रहती है।

क्राइम ब्रांच को भी इनकी तलाश
इससे पहले क्राइम ब्रांच ने ड्रग्स तस्करों को गिरफ्तार किया था। उसमें भी लड़कियों के जरिए भोपाल में ड्रग्स सप्लाई करने का कारोबार किए जाने के कनेक्शन सामने आ चुके हैं। इस मामले में पुलिस को तीन से ज्यादा लड़कियों की तलाश है। यह सभी युवाओं को फंसाकर उन्हें ड्रग्स की लत लगाते हैं।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *