• Hindi Information
  • Native
  • Haryana
  • Farmers Sitting On A Dharna In Sirsa In a single day, In The Morning The Police Chased Them By Utilizing Pressure; 40 Detained Together with Yogendra Yadav

सिरसाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

सिरसा के भूमणशाह चौक पर कृषि कानूनों के खिलाफ धरने पर बैठे योगेंद्र यादव को हिरासत में लेने के बाद बस में चढ़ाया गया। यहां पुलिस ने 40 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है।

  • मंगलवार शाम को किसानों ने भूमणशाह चौक पर पड़ाव डालने का ऐलान किया, वहीं लंगर लिया और रात को वहीं पर सोए
  • बुधवार सुबह करीब 10 बजे डीएसपी कुलदीप सिंह, एसडीएम डॉ. जयवीर यादव की अगुवाई में की गई कार्रवाई

कृषि बिलों के विरोध में सिरसा में बरनाला रोड पर किसानों का धरना मंगलवार को रातभर जारी रहा। हालांकि कल दिन में पुलिस की तरफ से वाटर कैनन और लाठीचार्ज के बावजूद किसान भूमणशाह चौक पर डटे रहे, मगर बुधवार सुबह पुलिस इन्हें खदेड़ने में कामयाब रही। स्वराज पार्टी के नेता योगेंद्र यादव भी यहां धरना देने के लिए पहुंच गए थे। पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में ले लिया। पुलिस ने कुल 40 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन पहुंचा दिया।

मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम को किसानों ने भूमणशाह चौक पर पड़ाव डालने का ऐलान किया। किसानों ने वहीं लंगर लिया और रात को वहीं पर सोए। योगेंद्र यादव, प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा सहित अनेक किसान नेता धरनास्थल पर रहे। किसान नेताओं ने ऐलान किया कि जब तक उपमुख्यमंत्री व बिजली मंत्री त्यागपत्र देकर उनके साथ नहीं आ जाते, उनका धरना जारी रहेगा। रातभर डटे भी रहे, मगर बुधवार सुबह करीब 10 बजे डीएसपी कुलदीप सिंह, एसडीएम डॉ. जयवीर यादव की अगुवाई में की गई कार्रवाई में पुलिस ने धरनास्थल पर बिछाई गई दरियों वगैरह को भी कब्जे में ले लिया और धरनास्थल से वाहनों की आवाजाही शुरू करवा दी।

आंदोलनकारी किसान को पकड़कर गाड़ी में बिठाती पुलिस टीम।

आंदोलनकारी किसान को पकड़कर गाड़ी में बिठाती पुलिस टीम।

इस दौरान अनेक किसान सड़क पर लेट गए, जिन्हें पुलिस ने जबरन उठाकर बसों में डाला। करीब आधा घंटे बाद स्वराज पार्टी के नेता योगेंद्र यादव धरनास्थल पर पहुंचे और कहा कि वह यहीं धरना देंगे, इसके बाद वे चौक में अपने पांच छह साथियों के साथ बैठ गए। बाद में पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में ले लिया।

इस दौरान कई किसान जमीन पर भी लेट गए, लेकिन पुलिस ने छोड़ा नहीं।

इस दौरान कई किसान जमीन पर भी लेट गए, लेकिन पुलिस ने छोड़ा नहीं।

उधर डिप्टी सीएम आवास की तरफ जाने वाली सड़क पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने कहा कि किसी को कानून अपने हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मंगलवार को प्रदर्शन में उपद्रव करने वालों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

योगेंद्र यादव ने कहा कि गिरफ्तारी से किसान डरने वाला नहीं है। किसान सड़कों पर आ गया है और अब नहीं डरेगा। किसानों पर दमन कर पुलिस ने फिर पिपली की याद दिला दी है। उन्होंने कहा कि यह आंदोलन कानून वापस लेने तक जारी रहेंगे। वहीं किसान नेता प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने कहा कि भाजपा ने किसानों के आंदोलन को दबाने का प्रयास भी किया है। बीते दिवस भाजपा ने आंदोलन को दबाने के लिए अपने गुंडे भेजे, पत्थरबाजी करवाई। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन नहीं थमेगा।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *