• Hindi Information
  • Native
  • Haryana
  • Dying Toll 1587 With 23 Deaths In The State, Now Sticker Will Not Be Positioned Outdoors The Home Of Corona Constructive

हरियाणा2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो।

  • अब तक 137639 संक्रमित, 124841 ठीक हो चुके
  • 24 घंटे में 1223 पॉजिटिव, इनमें आधे से ज्यादा मरीज सिर्फ 5 जिलों में मिले

राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घर के बाहर पहचान के लिए लगाए जाने वाला लाल कलर का स्टीकर नहीं लगाया जाएगा। जिन मरीजों के घर भी यह लगाया हुआ है, उसे भी हटाया जाएगा। इसे लेकर मुख्य सचिव विजय वर्धन का आदेश जारी होने के बाद स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक डॉ. सूरज भाजन कंबोज ने सभी सिविल सर्जन को पत्र लिख दिया है। पंजाब में स्टिकर लगाए जाने पर पहले ही रोक लगाई हुई है।

उधर, हरियाणा में अब कोरोना के नए केसों की संख्या स्थिर हो गई है। पिछले एक सप्ताह से रोज नए मरीज 1100 से 1300 के बीच मिल रहे हैं। बुधवार को 1223 पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से 53% केस सिर्फ 5 जिलों में मिले हैं। इनमें गुड़गांव में सबसे ज्यादा 293, फरीदाबाद में 178, सोनीपत में 66, हिसार में 65 व अम्बाला में 56 केस मिले। राहत की बात यह है कि 13 जिलों में नए मरीजों का आंकड़ा 50 से कम रहा। नूंह में लंबे समय के बाद एक भी नया मरीज नहीं मिला। अब संक्रमितों की कुल संख्या 137639 हो गई है।

वहीं, चिंता की बात यह है कि एक दिन में 23 मरीजों की मौत हो गई है। पंचकूला में सबसे ज्यादा 5, हिसार में 3, फरीदाबाद, पलवल, भिवानी, हिसार में 2-2, गुड़गांव, नूंह, यमुनानगर, सिरसा, कुरुक्षेत्र, रेवाड़ी, पानीपत में 1-1 मरीज की जान गई है। अब मृतकों की संख्या 1587 पहुंच गई है। वहीं, 1555 लोग ठीक हुए हैं। अब तक 124841 लोग ठीक हो चुके हैं। अब सक्रिय मरीज 11211 रह गए हैं। इनमें 249 मरीजों की हालत गंभीर है। 222 ऑक्सीजन व 27 वेंटिलेटर के सहारे हैं। पिछले 24 घंटे में 24562 लोगों के सैंपल लिए गए हैं।

यहां मिले नए मरीज

गुड़गांव में 293, फरीदाबाद में 178, सोनीपत में 66, हिसार में 65, अम्बाला में 56, पंचकूला में 54, करनाल में 52, सिरसा में 51, रेवाड़ी में 49, महेंद्रगढ़ में 48, जींद में 45, रोहतक व भिवानी में 40-40, कुरुक्षेत्र व फतेहाबाद में 32-32, झज्जर में 29, पानीपत में 28, पलवल में 26, यमुनानगर में 18, कैथल में 14, चरखी दादरी में 7 नए मरीज मिले हैं।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *