चंडीगढ़31 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मान के पिता गुरचरणजीत संधू भारतीय बास्केटबॉल टीम की ओर से खेल चुके हैं। उनकी बड़ी बहन आकर्षण संधू भी नेशनल टीम में शामिल रहीं। उनकी मां राजिंदर कौर डोमेस्टिक सर्किट पर खेली हैं। अमान ने सभी से एक कदम आगे बढ़ाया है और अब वे अपनी गेम के दम पर अमेरिका जा रहे हैं।

  • एनबीए एकेडमी इंडिया में अपने आप को साबित करने वाले अमान बास्केटबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रतिभावान खिलाड़ियों में शामिल हैं और अब उन्हें अमेरिका की यूनिवर्सिटी ने साइन किया है

(गौरव मारवाह). देश के सबसे टैलेंटेड बास्केट बॉलर्स में से एक अमान संधू अब अपनी लाइफ का नया चैप्टर शुरू करने को तैयार हैं। एनबीए एकेडमी इंडिया में अपने आप को साबित करने वाले अमान बास्केटबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रतिभावान खिलाड़ियों में शामिल हैं और अब उन्हें अमेरिका की यूनिवर्सिटी ने साइन किया है। वे अब क्रिस्चियन एकेडमी के साथ जुड़े हैं। ये एकेडमी पेंसिलवेनिया के इस प्राइवेट स्कूल में है जिसे अमान को अपने साथ जोड़ा है और अब उनकी दी स्कॉलरशिप के दम पर अमान वहां पर अपनी नई लाइफ शुरू करेगा।17 साल के अमान ने कहा कि मैं इस मौके से काफी खुश हूं। मैं ये बात साफ कर देना चाहता हूं कि जब हाई स्कूल खत्म होगा तो आपको एक अलग अमान संधू देखने को मिलेगा।

मैं अपनी लाइफ के नए चैप्टर को शुरू करने का इंतजार नहीं कर पा रहा हूं। यूएसए में बास्केटबॉल का कल्चर है और वहां की ट्रेनिंग, कोचिंग सभी चीजें पूरी तरह से अलग हैं। मेरा फोकस इसी बात पर है कि मैं अपनी ड्रिब्लिंग और शूटिंग स्किल्स में सुधार करूं।अमान ने 2017 में एनबीए एकेडमी इंडिया को जॉइन किया था और वे एसीजी एनबीए जंप प्रोग्राम के बाद एकेडमी के लिए चुने गए थे। वे इंडियन बास्केटबॉल टीम के भी मेंबर रहे हैं और बास्केटबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया का उन्हें पूरा सपोर्ट रहा है। इस साल संधू को छठे एनुअल बास्केटबॉल विद-आउट बॉर्डर्स कैंप में शामिल होने का मौका मिला था जिसका आयोजन अमेरिका के शिकागो में हुआ था। कैंप में दुनिया भर से 40 प्लेयर्स शामिल हुए थे और अमान भारत के एकमात्र प्लेयर थे।

बास्केटबॉल से जुड़ा पुरा परिवार

अमान का पूरा परिवार बास्केटबॉल से जुड़ा है और परिवार में चारों मेंबर बास्केटबॉलर ही हैं। अमान के पिता गुरचरणजीत संधू भारतीय बास्केटबॉल टीम की ओर से खेल चुके हैं। उनकी बड़ी बहन आकर्षण संधू भी नेशनल टीम में शामिल रहीं। उनकी मां राजिंदर कौर डोमेस्टिक सर्किट पर खेली हैं। अमान ने सभी से एक कदम आगे बढ़ाया है और अब वे अपनी गेम के दम पर अमेरिका जा रहे हैं।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *