}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजधानी में करम टोली तालाब, डोरंडा बटन तालाब, बैटरी तालाब, बड़ा तालाब, कांके डैम, हटिया डैम आदि के आसपास छठ पूजा की जाती है (फाइल)

  • लाल निशान लगाकर गहरे क्षेत्र को किया जाएगा चिन्हित

रांची नगर निगम शहर के छठ घाटों को दुरुस्त करने में जुट गया है। नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने निगम के सभी सुपरवाइजरों को स्पष्ट हिदायत दी है कि वे अपने इलाकों के छठ घाटों में सफाई की व्यवस्था का इंतजाम देख लें। उन्होंने कहा कि अगर किसी तालाब में सफाई या किसी अन्य चीज की कमी मिली और मामले की शिकायत आई तो सुपरवाइजरों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। लाल निशान लगाकर कर गहरे इलाके को किया जाएगा चिन्हित नगर निगम के सफाई कर्मियों ने नगर आयुक्त को जानकारी दी है कि सभी तालाबों पर साफ सफाई का काम पूरा हो गया है। इस पर नगर आयुक्त ने सभी सुपरवाइजर को छठ घाटों का जायजा लेने को कहा है। अब सुपरवाइजर सभी छठ घाटों का निरीक्षण करेंगे और इसके बाद अगर कहीं साफ सफाई की कमी है तो उसे पूरा कराएंगे। साथ ही तालाबों में लाल निशान लगाने के निर्देश दिए। यह लाल निशान उस दिन लगाएंगे जिस दिन सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा।लाल निशान लगाने का मतलब होगा कि इसके आगे गहराई है और श्रद्धालु उधर नहीं जाएं। इन तालाबों के किनारे होती है छठ पूजा इसके अलावा नगर निगम ने तालाबों के किनारे गोताखोर भी तैनात रखने का फैसला किया है। गोताखोर इसलिए तैनात किए जा रहे हैं। राजधानी में करम टोली तालाब, डोरंडा बटन तालाब, बैटरी तालाब, बड़ा तालाब, कांके डैम, हटिया डैम आदि के आसपास छठ पूजा की जाती है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *