भभुआ19 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भभुआ विधानसभा के पूर्व विधायक जदयू के जिला अध्यक्ष डॉ प्रमोद कुमार ने कहा कि राजनीति में आने का मेरा निर्णय गलत था, मैंने इमानदारी पूर्वक सभी का सेवा किया। संगठन को मजबूत करने में एड़ी चोटी का दम लगाते हुए जिले के चारों विधानसभा में संगठन को बूथ स्तर तक मैंने काफी मजबूत बनाया। उन्होंने जदयू के कार्यकर्ताओं से माफी मांगते हुए कहा कि कैमूर जिले के चारों विधानसभा सीट में किसी भी सीट से जदयू का उम्मीदवारी ना दिलाने के लिए वे उनसे क्षमा मांगते हैं। उन्होंने प्रेस वार्ता में कहा कि कार्यकर्ताओं का जो निर्णय होगा, वह मानेंगे। साथ ही जहां-जहां से भी भाजपा प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे, उनको हराने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि कार्यकर्ता चाहेंगे तो वह भभुआ विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि मैं दल के बड़े नेताओं के साथ-साथ इस गठबंधन से काफी आहत हूं कि मुझे इस सेवा के लायक नहीं समझा गया कि मैं विधानसभा पहुंचकर जनता की सेवा करूं। कहा- मैनें 10 वर्ष तक सभी जाति- धर्म के लोगों की सेवा की: कहा कि मैंने 10 वर्ष तक विधानसभा के सभी जाति धर्म के लोगों का सेवा किया है कभी भी मैंने किसी का अहित नहीं चाहा। इमानदारी पूर्वक संगठन को मजबूत किया।समर्पित होकर एक कार्यकर्ता के रूप में मैंने काम किया और उसका नतीजा हमें यह मिला कि कैमूर जिला के किसी भी विधानसभा से जदयू के उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे। यदि पार्टी चाहे तो उन्हें निकाल सकती है। कहां कि हमें बदनाम करने के लिए यह अफवाह उड़ाई कि डॉ प्रमोद इस दल में जा रहे हैं तो फलां दल में जा रहे हैं जबकि मैं किसी दल में नहीं जा रहा हूं।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *