}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मप्र में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में 277 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है। इसमें बीएसपी के 12 उम्मीदवार भी हैं,जो अपनी जमानत नहीं बचा पाए।

  • 28 सीटों पर चुनाव लड़े 355 में से 277 उम्मीदवार नहीं बचा पाए जमानत,
  • बीएसपी के12 उम्मीदवारों को इतने वोट भी नहीं मिले कि जमानत बच सके

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में 78% उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है। यानी 277 उम्मीदवार 1.60% वोट भी हासिल नहीं कर पाए। इसमें बीएसपी के 12 उम्मीदवार भी शामिल है। जबकि मप्र में ग्वालियर-चंबल क्षेत्र ही ऐसा क्षेत्र है, जहां बीएसपी का बड़ा जनाधार रहा है। ऐसे में केवल 15 उम्मीदवार ही जमानत बचा पाए। कुल 355 उम्मीदवार उपचुनाव मैदान में उतरे थे। बता दें कि चुनाव लड़ने वाला उम्मीवार को यदि उस सीट पर पड़ने वाले कुल वोट में से 1.60% वोट नहीं मिल पाते हैं तो उसकी जमानत राशि जब्त हो जाती है। जिस वे नामांकन के समय बतौर जमा करता है।

मेहगांव में सबसे ज्यादा 35 की जमानत जब्त

मेहगांव में सबसे ज्यादा 35 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई है। हालांकि यहां बीएसपी को 13.68% वोट मिले हैं। यहां बीजेपी, कांग्रेस और बीएसपी के उम्मीदवार जमानत बचा पाए। समाजवादी पार्टी सहित eight दल के उम्मीदवारों के अलावा 27 निर्दलियों की जमानत जब्त हो गई है।

सांची आरक्षित सीट, फिर भी बीएसपी की जमानत जब्त

सांची सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट है। यहां दलित वोट 19.16% हैं। बावजूद इसके बीएसपी को यहां 0.9% वोट मिले और उम्मीवार कीजमानत जब्त हो गई।

जहां 10 ज्यादा उम्मीदवारों की जमानत जब्त

सीट संख्या

मेहगांव 35

मलहेरा 16

सुरखी 13

सांची 13

मुरैना 12

गोहद 12

जौरा 12

सांवेर 11

डबरा 11



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *