}; (function(d, s, id){ var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0]; if (d.getElementById(id)) {return;} js = d.createElement(s); js.id = id; js.src = "https://connect.facebook.net/en_US/sdk.js"; fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs); }(document, 'script', 'facebook-jssdk'));


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

प्रतिकात्मक फोटो

  • दीवाली और छठ पूजा पर पूर्वांचल के लोगों को घर पहुंचना हुआ मुश्किल
  • भीड़ नियंत्रण के लिए आरपीएफ ने कसी कमर

कोरोना संक्रमण को लेकर पहले के मुकाबले ट्रेनें कम बस में सोशल डिस्पेंसिंग के कारण इंटरस्टेट बसों में क्षमता से अ‌ाधी यात्रियों को सफर की इजाजत के कारण दीवाली और छठ पूजा पर पूर्वांचल के लोगों को घर पहुंचना बेहद मुश्किल हो गया है।

ट्रेनों में 40-60प्रतिशत की वेटिंग तो अंतरराज्यीय बसों में जगह नहीं है। वहीं कोरोना संक्रमण के कारण रेलवे केवल विशेष ट्रेनों की संचालन कर रही है। सामान्य समय में जहां यहां से रोजाना 30 से अधिक ट्रेन चलती थी अब इनकी संख्या करीब 15 रह गई है।

रेलवे ने दिवाली और छठ पूजा के लिए त्यौहार स्पेशल चलाई पूर्वांचल की ओर जाने वाली 04422 आनंद विहार- लखनऊ स्पेशल, 04090 आनंद विहार- भागलपुर स्पेशल, 04012 आनंद विहार- जोगबनी स्पेशल, 04092 नई दिल्ली- जयनगर स्पेशल, 04030 दिल्ली-मुज्जफरपुर स्पेशल , 04084 दिल्ली- कटिहार स्पेशल, 04401 नई दिल्ली-कटरा स्पेशल, 02448 उत्तर संपर्क क्रांति स्पेशल, 05116 दिल्ली- छपरा स्पेशल , 02582 नई दिल्ली- मंडूवाहडीह स्पेशल, 02398 नई दिल्ली- गया स्पेशल, 02596 गोरखपुर हमसफर स्पेशल, 02820 आनंद विहार- भुवनेश्वर स्पेशल समेत लगभग दो दर्जन ट्रेनों का संचालन करने की तैयारी कर ली है।

पर 05484 दिल्ली- अलीपुरद्वार जंक्शन स्पेशल, 02392 श्रमजीवी सपेशल, 02310 पटना राजधानी स्पेशल, 02394 संपूर्ण क्रांति स्पेशल, 02570 नई दिल्ली- दरभंगा क्लोन स्पेशल ,02566 बिहार संपर्क क्रांति स्पेशल, 02562 नई दिल्ली- जयनगर, 02558 सप्तक्रांति स्पेशल, 02554 वैशाली स्पेशल, 02004 लखनऊ शताब्दी स्पेशल, 82502 लखनऊ तेजस स्पेशल इन ट्रेनों में यात्रियों की वेटिंग शुरू हो गई है।

इस कारण यह संभावना कम है कि वेटिंग वाले यात्री ट्रेनों में सफर कर पाए। क्योंकि नियम के अनुसार यह सभी ट्रेनें आरक्षित हैं और बिना आरक्षण इनमें सफर नहीं किया जा सकता।

दिल्ली से खुलने वाली अभी तक त्यौहारों के लिए करीब 30 से अधिक त्यौहार विशेष ट्रेन की घोषणा हो चुकी है। पहले से चल रहीं अधिकांश विशेष ट्रेनों में सीटें फूल हैं। दिल्ली मंडल की सीनियर डीएससी सारिका मोहन ने आज नई दिल्ली रेलवे स्टेशन और आनंद विहार पर इसे देखते हुए भीड़ का स्वंय जायजा लिया।

उन्‍होंने बताया कि हमने आनंद विहार टर्मिनल के बाहर टेंट लगाया है। सोशल डिस्पेंसिंग के लिए गोल धेरे बनाए गए हैं। इसके अलावा भूतल पर नियंत्रण कक्ष बनाया है। सभी गतिविधियों पर सेंट्रलाइज्ड सीसीटीवी कैमरों से पूरे स्टेशन की निगरानी की जा रहीं है।

सारिका मोहन ने बताया कि रविवार को नई दिल्ली स्टेशन पर अजमेरी गेट की तरफ लोगों की भीड़ को नियंत्रित करने यहां सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए विशेष स्टाफ की तैनाती की गई है।

संक्रमण से बचाव व सावधानी बरतने के लिए उद्घोषणा हो रही थी। जगह-जगह बैनर और पोस्टर भी लगाए गए थे। आरपीएफ ने नई दिल्ली के अजमेरी गेट की तरफ टेंट लगाया गया है। यहां पर भी रेलवे अधिकारियों का एक कंट्रोल रूम बनाया है। जिसमें मैकेनिकल, ऑपरेटर हर विभाग का एक कर्मचारी है।

जिससे लोगों की शिकायत मिलने पर तुरंत उस पर कार्रवाई की जा सके। स्टेशन पर भीड़ को नियंत्रित करने, किसी तरह चोर रास्ते से यात्रियों के प्लेटफार्म तक न पहुंचने देने के लिए रस्सों से बैरिकेडिंग की गई है।

दीपावली-छठ पर्वों के लिए उत्तर रेलवे के तैयारियों का सीआरबी ने लिया जायजा

आगामी दीपावली-छठ पर्वों पर स्टेशनों पर उत्तर रेलवे के द्वारा की जा रही तैयारियों का रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी वीके यादव ने उत्तर रेलवे द्वारा पर्वों की अवधि के दौरान अतिरिक्त यात्रियों की भीड़ से निपटने के लिए किये जा रहे इंतजामों का जायज़ा लेने के लिए आज नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया ।

इस मौके पर उनके साथ उत्तर रेलवे के महाप्रबंधकबआशुतोष गंगल, रेल सुरक्षा बल के महानिदेशक अरूण कुमार, दिल्ली मंडल के मंडल रेल प्रबंधक एस.सी.जैन तथा रेलवे बोर्ड एवं उत्तर रेलवे के अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारीगण भी उपस्थित थे ।

उत्तर रेलवे पूरी सभी मंडलों में दिवाली और छठ पर्व में यात्रियों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए कोविड गाइड लाइंस के तहत स्टेशनों पर सुरक्षा ,कोरोना संक्रमण से बचाव सहित सभी उपायों के साथ एनाउंसमेंट, यात्री सुविधा भी उपलब्ध करवा रही है।
-दीपक कुमार, सीपीआरओ, उत्तर रेलवे



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *