खरखौदा5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

10 लाख रुपए पैमाइश पर खर्च कर खरखौदा नगरपालिका अब एक्शन मोड में आ गई है, अवैध कब्जे छुड़ाने में हर मोर्चे पर फेल हुई नगरपालिका ने अब नए सिरे से अपनी कार्रवाई शुरू की है। करीब 2 हजार लोगों के नाम केस के लिए फाइनल किए हैं, हर केस की एक अलग से फाइल तैयार की है। केस फाइलें वकील को सौंपी हुई हैं।

नगरपालिका के वकील पवन राणा ने केस डालने की कार्रवाई शुरू कर दी है। खरखौदा एसडीएम कोर्ट में पीपी एक्ट के तहत केस डाल दिए हैं। पहले चरण में कोविड 19 के कारण एसडीएम ने एक साथ ज्यादा केस लेने से मना कर दिया है। जिसके चलते फिलहाल केवल 9 केस लिए गए हैं। नगरपालिका वकील पवन राणा का कहना है कि सभी अवैध कब्जा धारकों की केस फाइलें तैयार है, जिनके खिलाफ केस किए जा रहे हैं।

केस डालकर वे अवैध कब्जा धारकों से नपा की जमीन को खाली कराया जाएगा। हालांकि ये केस करने में नगरपालिका पार्षद नपा के खिलाफ हैं, क्योंकि जो गढ़ी मोहल्ले सहित कई बस्तियों को केस में शामिल किया गया है वे 70 से 100 से भी अधिक वर्ष पुरानी हैं। उन्होंने मांग की है कि इन्हें रेगुलाइज किया जाए।

कार्रवाई : इन लोगों के खिलाफ दर्ज किया केस

किला नं. 149-13 में प्रमोद बरोणा, रोहतास पुत्र करतारे वार्ड 10, पप्पू पुत्र हरीराम वार्ड 10, बीरू पुत्र हरीराम वार्ड 10 के खिलाफ केस किया गया है, जबकि किला नंबर 147 -5 में रामकिशन पुत्र चंदगी वार्ड 15, किला नंबर 138-25 में संदीप पुत्र सतीश वार्ड 15, काले पुत्र भरतू वार्ड 15, औमबीर पुत्र सतपाल वार्ड 15 व संदीप पुत्र सतीश वार्ड 15 के खिलाफ केस किए गए हैं। जिनके जल्द ही नोटिस किए जाएंगे।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *